PM Matritva Vandana Yojana (PMMVY) : प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना क्या है ? पूरी जानकारी

प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना क्या है ? Pradhan Mantri Matritva Vandana Yojana (PMMVY) PM Matritva Vandana Yojana in Hindi , प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना ऑनलाइन

हेल्लो दोस्तों आज हम आपको गर्भवती और स्तनपान कराने वाली महिलाओं के लाभ से सबंधित प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना 2020 के बारे में पूरी जानकारी देंगे| यह योजना सबसे पहले 2010 में इंदिरा गाँधी मातृ सहयोग योजना के नाम से चलाई गयी थी, लेकिन 2014 में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की सरकार में इसका नाम प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना रखा जिसे आज हम PMMVY के नाम से भी जानते है| यह योजना खासकर उन महिलाओं  लिए शुरू की गयी है जो गर्भवती है, स्तनपान करा रही है,काम करने वाली मजदूर महिलाओं के लिए है जब वे गर्भवती हो| इस योजना के द्वारा वे अपनी जरुरत की चीजे खरीद सकती है| इस योजना के अंतर्गत उन्हें 6000 की सहायता दी जायेगी | जिससे वे अपना ख्याल रख सके| यह सहायता आपको तीन किस्तों में मिलेगी| प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना को गर्भावस्था सहायता योजना के नाम से भी जाना जाता है| इस आर्टिकल में प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना ( PMMVY ) क्या है ? उद्देश्य ,पात्रता , PMMVY के लाभ, मातृत्व वंदना योजना के लिए आवेदन कैसे करे ? दोस्तों इस आर्टिकल के द्वारा आपको प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना से सम्बंधित सारी जानकारी प्राप्त हो जायेगी|

प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना क्या है – 

यह योजना देश के कई राज्यों में शुरू कर दी गयी है और इस योजना का लाभ अभी तक कई महिलाएं उठा सकती है| यह योजना महिला और बाल विकास मंत्रालय द्वारा संचालित की गयी है| महिलाओं और बच्चों से सम्बंधित सभी योजना महिला और बाल विकास मंत्रालय द्वारा ही शुरू की जाती है| इस योजना के द्वारा महिलाएं जब गर्भवती हो तब उन्हें और उनके नवजात बच्चे को पोषण मिल सके|कमजोर वर्ग की महिलाएँ ऐसी स्थिति में आर्थिक तंगी होने कारण वे अपना और अपने बच्चे को कुपोषण हो सकता है| गर्भावस्था के समय महिलाओं को कई कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है अगर उन्हें सही से दवाए,फल-सब्जियां न मिले तो इसका बुरा असर उन्हें बच्चें और महिला पर पड़ता है| बच्चें के जन्म के बाद वह ज्यादातर अस्वस्थ या फिर वह कुपोषित होता है| किसी देश में अगर कुपोषित बच्चों की संख्या ज्यादा होगी वह देश हमेशा पीछे रहता है,क्योकि देश नागरिको से बनता है| इस योजना का लाभ एक महिला एक बार ही प्राप्त कर सकती है|

पी एम मातृत्व वंदना योजना ( PMMVY ) का उद्देश्य

दोस्तों कोई योजना की शुरुआत की जाती है तो उसका कोई उद्देश्य होता है| योजनायें देशवासियों के हित के लिए ,देश के लिए शुरू की जाती है| नरेन्द्र मोदी जी ने अभी तक कई योजनाओं का उद्घाटन कर चुके है| पी एम मातृत्व वंदना योजना महिलाओं के लिए शुरू की गयी| इस योजना का प्रमुख उद्देश्य गर्भवती और स्तनपान कराने वाली महिलाओं को आर्थिक रूप से मदद करना है| इस योजना के तहत उन महिलाओं को 6000 रुपये मिलेंगे| दोस्तों जो महिलाएं इस योजना का लाभ लेना चाहती है उन्हें जल्दी से आवेदन करना चाहिए| इस योजना के द्वारा मजदूर,कमजोर वर्ग की महिलाएँ जो अपने घर को चलाने के लिए मजदूरी करती है है तो गर्भावस्था के समय 6000 रुपये की मदद की जाती है| जिससे वे अपने स्वास्थ्य से सम्बंधित खान पान से सम्बंधित सभी चीज़े खरीद पाए| इस योजना का उद्देश्य यह भी है कि गर्भवती और स्तनपान कराने वाली स्त्रियाँ और नवजात शिशु की देखभाल कर सके| जिससे भारत देश की म्रत्यु दर कम हो| इस योजना के द्वारा प्रसव, गर्भावस्था ,स्तनपान कराने वाली महिलाओ को जागरूक करना| इस योजना के तहत वे जागरूक होगी और सस्थागत सेवा का उपयोग करेगी|

पी एम मातृत्व वंदना योजना ( PMMVY ) के लाभ –

  • इस योजना का लाभ मजदूरी करने वाली महिलाएं, गर्भवती , स्तनपान कराने वाली महिलाएं ही ले सकती है|
  • इस योजना के द्वारा गर्भावस्था के समय मोदी सरकार 6000 की धनराशि देकर उनकी आर्थिक सहायता करेगी| यह धनराशि तीन किस्तों में मिलेगी|
  • यह धनराशि आपके बैंक खाते में जायेगी|
  • यह योजना सिर्फ महिलाओं के लिए है|
  • इस योजना का लाभ सरकारी नौकरी करने वाली महिलाएं नहीं ले सकती है|
  • इस योजना का लाभ वे महिलाएं नहीं ले सकती है जो कोई दूसरी योजना या कानून के तहत समान लाभ प्राप्त कर रही हो|

PMMVY के लिए पात्रता –

  • गर्भवती, स्तनपान कराने वाली महिलाएँ मातृत्व वंदना योजना का लाभ लेने के लिए आवेदन कर सकती है|
  • इस योजना के लिए महिला की उम्र 19 वर्ष या अधिक होनी चाहिए|
  • जो महिलाएँ सरकारी,प्राइवेट नौकरी कर रही है उन्हें इस योजना से वंचित रहना होगा|
  • जो महिलाएं पहले सभी किस्ते पा चुकी है उन महिलाओं को इस योजना का लाभ नहीं मिल सकता|
  • जो महिलाएँ अन्य योजना का लाभ प्राप्त कर रही है,वे इस योजना का लाभ नहीं प्राप्त कर सकती है|

पी एम मातृत्व वंदना योजना ( PMMVY ) की किस्ते –

दोस्तों इस योजना के अंतर्गत मिलने वाली राशि तीन किस्तों में मिलेगी|यह राशि महिलाओं के बैंक खाते में जाती है,जिससे वे इस योजना का लाभ ले सके| इस योजना के अंतर्गत Total 6000 रुपये मिलेंगे|

  • पहली क़िस्त – पहली क़िस्त में आपको 1000 रुपये की धनराशि मिलेगी|यह धनराशि आपको तभी मिलेगी जब गर्भावस्था के दौरान आपका पंजीकरण होगा| पंजीकरण होने के बाद आपको 1000 रुपये की धनराशि प्राप्त होगी| पंजीकरण से आपका नाम इस योजना से जुड़ जाता है|
  • दूसरी क़िस्त – दूसरी क़िस्त में 2000 रुपये की धनराशि मिलेगी| यह धनराशि गर्भावस्था के 6 महीने बाद या प्रसव होने से पहले दिए जाते है|
  • तीसरी क़िस्त – तीसरी क़िस्त में 2000 रुपये मिलेंगे|यह क़िस्त तब मिलती है जब बच्चे का जन्म हो जाता है| पंजीकरण और बच्चे को BCG,OPV,DPT और हेपेटाइटिस B का टीका लग जाता है|

1000 रुपये महिला के प्रसव दौरान दे दिए जाते है| क्योकि प्रसव के वक्त अस्पताल में रुपये जमा होते है|

प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना के लिए आवश्यक दस्तावेज़ –

दोस्तों अगर आप किसी योजना का लाभ लेना चाहते है तो उसके लिए आपको कुछ जरुरी दस्तावेज होने चाहिए|

  • आवेदन करने वाली गर्भवती महिलाओ की उम्र 19 वर्ष या उससे कम नहीं होनी चाहिए|
  •  जो महिलाएं 1 जनवरी 2017 या उसके बाद गर्भवती हुई है वे इस योजना का लाभ प्राप्त कर सकती है|
  • राशन कार्ड होना चाहिए|
  • बच्चे का जन्म प्रमाण पत्र होना चाहिए|
  • माता पिता का आधार कार्ड होना चाहिए|
  • बैंक खाते की पासबुक होनी चाहिए|
  • माता पिता का पहचान पत्र होना चाहिए|
  • अगर आधार न हो तो पहचान संबंधी कोई अन्य दस्तावेज दे सकते है|
  • सरकारी अस्पताल से जारी स्वास्थ्य कार्ड

यह योजना उन महिलाओं के बहुत उपयोगी है जो गर्भवती हो| इस योजना के द्वारा मिलने वाले रूपये से वे अपने जरुरी चीजों खरीद सकती है जैसे सब्जी,दवाए आदि| ऐसी स्थिति में महिलाओं को अपने स्वास्थ्य और खानपान ध्यान देने की जरुरत होती है इस धनराशि वे अपना और नवजात शिशु की देखभाल कर सकती है| भारत देश में कई महिलाओं की म्रत्यु इसी वजह से हो जाती है| इस योजना के द्वारा भारत में म्रत्यु दर कम होगी| इस योजना का लाभ महिलाएं ही उठा सकती है|

मातृत्व वंदना योजना 2020 के बारे में जानकारी 

  • योजना का नाम – मातृत्व वंदना योजना 2020 
  • शुरुआत की गयी – प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा
  • शुरुआत – भारत के कुछ राज्यों में
  • योजना का उद्देश्य – गर्भवती और स्तनपान कराने वाली महिलाओं की मदद करना|
  • आवेदन प्रक्रिया – ऑफलाइन
  • धनराशि – 6000 रुपये ( तीन किस्तों में)
  • योजना श्रेणी – केंद्र सरकार की योजना

PMMVY प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना के लिए आवेदन कैसे करे –

  • प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना का लाभ उठाने के लिए आप offline आवेदन करे क्योकि आप online आवेदन नहीं कर सकते है|
  • इस योजना में आपको धनराशि तीन किस्तों में मिलती है और इसके लिए आपको इसका फार्म तीन बार भरना होगा|
  • सबसे पहले इस योजना के लिए आवेदन करने वाली महिलाए अपने आंगनवाड़ी और पास के स्वास्थ्य केंद्र में जाकर पूरी जानकारी प्राप्त करे और पहला फार्म जो पंजीकरण के लिए भरवाया जाता है| और उस फॉर्म में पूछी गयी सभी जानकारी को भरे और उसके बाद वह फॉर्म जमा कर दे|
  • समय समय पर आंगनवाड़ी तथा निकट स्वास्थ्य केंद्र में जाकर जानकारी लेते रहे और इसी तरह दूसरा फॉर्म ,तीसरा फॉर्म भर दे फिर जमा कर दीजिये |
  • जब आपके तीनो फार्म भर जायेंगे तो वे आपको एक स्लिप देते है इस तरह से आपका फॉर्म fill हो जाता है|
  • अगर आपको इस योजना से सम्बंधित और जानकारी लेनी है तो इसके लिए  महिला तथा बाल विकास मंत्रालय की official website http://wcd.nic.in/ पर जाकर प्राप्त कर सकते है और साथ ही साथ आपने जो आवेदन फॉर्म भरा है वह भी डाउनलोड कर सकते है|

पी एम मातृत्व वंदना योजना का आवेदन शुल्क

इस योजना को offline भरा जाता है इसलिए इस फॉर्म को भरने के लिए आपको कोई शुल्क नहीं देना पड़ता है| इस योजना के फार्म को तीन बार भरना पड़ता है क्योकि इससे मिलने वाली धनराशि तीन किस्तों में मिलती है| इस फॉर्म को भरने के लिए आपको आंगनबाड़ी और निकट के स्वास्थ्य केंद्र जाकर वही फॉर्म भरे और भर कर वही जमा कर दे| जो महिलाएं इस योजना की पात्रता रखती है उन्हें यह फॉर्म जरुर भरना चाहिए| लाभार्थी संस्थागत प्रसव के लिए जननी सुरक्षा योजना (JSY) के द्वारा दिया जाने वाले रुपये भी मिलेंगे और जननी सुरक्षा योजना (JSY) के द्वारा मिलने वाले रुपये से मातृत्व लाभ की ओर ध्यान रखा जाएगा|

प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना ऑनलाइन :

दोस्तों जैसा कि आप जानते है हर योजना ऑनलाइन या ऑफलाइन भरा जाता है लेकिन इसका फॉर्म ऑफलाइन ही भरा जाता है आवेदनकर्ता को आगनवाडी में जाकर इस फॉर्म को भरना पड़ता है| कोई भी फॉर्म दो तरीके से भरा जाता है| यह फॉर्म तीन बार अलग अलग भरा जाता है इसके लिए आपको स्वास्थ्य केंद्र जाकर पूरी जानकारी ले| ज्यादातर योजनाओं के आवेदन फॉर्म ऑनलाइन भरे जाते है| यह योजना उन महिलाओं के लिए है जो महिलाएं गर्भवती है इस योजना से प्राप्त धन वे अपना और अपने बच्चे का ध्यान रख सकती है और अपनी जरुरत के हिसाब से फल सब्जी ,दवाए ले सकती है| इस योजना के द्वारा उन्हें तीन किस्तों में 6000 रुपये दिए जायेंगे| पहली क़िस्त में 1000 और दूसरी क़िस्त में 2000,तीसरी में 2000 और प्रसव के समय 1000 रुपये लाभार्थी को दिया जाता है| इस योजना का उद्देश्य यह भी है कि गर्भवती और स्तनपान कराने वाली स्त्रियाँ और नवजात शिशु की देखभाल कर सके| जिससे भारत देश की म्रत्यु दर कम हो| इस योजना के द्वारा प्रसव, गर्भावस्था ,स्तनपान कराने वाली महिलाओ को जागरूक करना| इस योजना के तहत वे जागरूक होगी और सस्थागत सेवा का उपयोग करेगी| इस योजना का लाभ महिलाएं एक बार ही ले सकती है|

प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना टोल फ्री नंबर : 

दोस्तों जैसा कि आप जानते है आवेदनकर्ता को टोल फ्री नंबर दिया जाता जिससे वे इस योजना से सभी जानकारी ले सके आप किसी योजना का लाभ तब ले सकते है जब उस योजना के बारे में आपको सब कुछ पता हो जैसा कि इसमें कौन कौन से दस्तावेज लगेंगे| अगर आपको इस योजना से सम्बंधित कोई जानकारी लेना है तो आपको प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना टोल फ्री नंबर 011-23386423 कॉल करके जानकारी ले सकते है| आप कोई भी जानकारी फ्री में पा सकते है|

दोस्तों आशा है आपको हमारी यह आर्टिकल पसंद आया होगा| उम्मीद है आपको इस आर्टिकल के द्वारा प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना 2020 (PMMVY) मिल गई होगी| दोस्तों यह योजना आपके लिए उपयोगी होगी| जो महिलाएं इस योजना का लाभ उठाना चाहती है उन्हें इस आर्टिकल को पढ़ाये  और स्वयं पढ़े| जिससे आपको पीएम मातृत्व वंदना योजना के लिए,के बारे में पूरी जानकारी प्राप्त हो पाए|

Leave a Comment