EWS Certificate के लिए Online Apply कैसे करे?

EWS Certificate के लिए Online Apply कैसे करे?

 EWS Certificate Online Apply : आज हम आपको EWS Online Apply In UP, ews online form up, EWS Certificate Ke Liye Online Apply Kaise Kare आदि के बारे में जानकारी देने वाले हैं | भारत आज के समय मे दुनिया के सबसे तेजी से आगे बढ़ रहे देशो में से एक हैं। वर्तमान में भारत एक विकाशशील देश हैं लेकिन जिस तरह से और जिस तेजी से हम आगे बढ़ रहे हैं, लगता हैं कि भारत कुछ सालों में विकसीतदेशो की लिस्ट में शामिल होगा। लेकिन आज भी भारत मेकरोड़ो लोग ऐसे हैं जो जात-पात व उच-नीच को महत्व देते हैं। सवर्ण और दलित के बीच के गैप को मिटाने के लिए सालों पहले आरक्षण की शुरुआत की गई थी। लेकिन किसी सामान्य अंग्रेजी दवाई की तरह इसके भी कुछ साइडइफेक्ट हुए और आरक्षण की वजह से उन लोगों को भी वह पद नहीं मिल सके जिसके लिए वह बेहतर थे और उन लोगो को मिले जो उसके योग्य नही थे। इस वजह से भ्रष्टाचार भी बढ़ा।

वर्तमान में भी जात-पात जैसी चीजें मौजूद है और कहीं ना कहीं आज भी आरक्षण की जरूरत है। लेकिन उन लोगों को नहीं जी एक विशेष जाति में पैदा होते हैं बल्कि उन लोगों को जो आर्थिक रूप से कमजोर होते हैं। इसी बात को ध्यान में रखते हुए माननीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने EWS की शुरुआत की। EWS सर्टिफिकेट के द्वारा नौकरी और शिक्षा में आर्थिक रूप से कमजोर सामान्य वर्ग के लोगों को भी आरक्षण मिल सकेगा। यह योजना उन परिवारों के लिए बनाई गई हैं जो आर्थिक रूप से कमजोर हैं। इस योजना को शुरू करने का मुख्य मकसद उन लोगो को उन पदों तक पहुचाना हैं जो उसे डिजर्व करते हैं। EWS योजना की शुरुआत केंद्र सरकार के सबसे बेहतर योजनाओ में से एक हैं।

आज के इस लेख में हम EWS सर्टिफिकेट क्या है, EWS सर्टिफिकेट योजना के उद्देश्य, EWS सर्टिफिकेट बनवाने के लिए क्या क्या Documents जरूरी है या EWS Certificate योजना के लिए पात्रता और ईडब्ल्यूएस सर्टिफिकेट के लिए ऑनलाइन आवेदन कैसे करें (EWS Certificate Ke Liye Online Apply Kaise Kare) के विषय मे बात करेंगे।

EWS Certificate क्या हैं? EWS Certificate in Hindi

सामान्य वर्ग (Genral) के नागरिकों को अधिकतर SC/ST व OBC के मुकाबले सरकारी नौकरी मिलने में और सरकारी विद्यालयों और विश्वविद्यालयों में एडमिशन मिलने में दिक्कत होती है। लेकिन प्राइवेट सेक्टर में सामान्य वर्ग के लोगों का ही अधिक बोलबाला है। लेकिन सबसे अधिक दिक्कत उन लोगों को होती है जो सामान्य वर्ग में है लेकिन आर्थिक रूप से कमजोर है। गरीबी रेखा के नीचे जीवन व्यतीत कर रहे सामान्य वर्ग के लोग और सामान्य वर्ग के मिडिल क्लास परिवार अक्सर इस प्रकार की समस्याओं से जूझते हैं। यह संख्या लाखों नहीं बल्कि करोड़ों में है और इसी बात को ध्यान में रखते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ईडब्ल्यूएस सर्टिफिकेट योजना की शुरुआत की।

सबसे पहले EWS की फुलफॉर्म (EWS Full Form in Hindi) की बात की जाए तो EWS का मतलब Economically Weaker Sections जिसे हिंदी में ‘आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग’ कहा जा सकता हैं। ईडब्ल्यूएस सर्टिफिकेट यह दर्शाता है कि व्यक्ति आर्थिक रूप से कमजोर है। जिस भी नागरिक के पास ईडब्ल्यूएस सर्टिफिकेट होगा उसे सामान्य वर्ग में होते हुए भी शिक्षा और सरकारी नौकरी के क्षेत्र में 10% तक का आरक्षण मिलेगा। यानी कि अब एससी/एसटी और ओबीसी के साथ सामान्य वर्ग के आर्थिक रूप से कमजोर लोगों को भी सरकारी नौकरी और सरकारी शिक्षा संस्थानों में एडमिशन के लिए प्राथमिकता दी जाएगी।

इस तरह की योजना के ऊपर सालों से बात की जा रही थी लेकिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हर बार की तरह अचानक से इस योजना को लाकर लोगों को हैरान कर दिया। ईडब्ल्यूएस सर्टिफिकेट सामान्य वर्ग के आर्थिक रूप से कमजोर लोगों के लिए एक वरदान जैसा है। जो लोग सरकारी नौकरी प्राप्त करना चाहते हैं या सरकारी शिक्षा संस्थानों में एडमिशन लेना चाहते हैं उन्हें यह EWS Certificate 10% तक का आरक्षण दिलवाने का काम कर सकता है। EWS Certificate प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की केंद्र सरकार की तरफ से ऊंच-नीच को मिटाने की एक बेहतरीन कोशिश है। EWS Certificate सामान्य वर्ग के आर्थिक रूप से कमजोर लोगों के साथ होने वाले भेद-भाव को मिटाने का काम भी करेगा।

 EWS Certificate Online Apply

ईडब्ल्यूएस सर्टिफिकेट जैसी किसी योजना को लाने की बात पिछले कई सालों से चल रही थी लेकिन 12 जनवरी 2019 को ‘आर्थिक कमजोर वर्ग आरक्षण विधेयक अनुच्छेद 15 (6) और अनुच्छेद 16 (6)’ को पूर्व राष्ट्रपति रामनाथकोविंद के द्वारा अप्रूव कर दिया गया। भारतीय जनता पार्टी की सरकार के नेतृत्व में यह बिल दोनों पार्लियामेंट से पास हुआ और लागू हुआ। एक Youth fo Equality नाम की संस्था इस विधेयक के खिलाफ सुप्रीम।कोर्ट गयी और इसे रोकने की मांग की लेकिन 25 जनवरी 2019 को सुप्रीम कोर्ट ने भी इस बिल पर रोक लगाने से मना कर दिया। 2019 के नवम्बर से ही EWS Certificate को नौकरी और शिक्षा के क्षेत्र में इफेक्टिव बना दिया गया है। यानी कि अब ईडब्ल्यूएस सर्टिफिकेट के माध्यम से सामान्य वर्ग के आर्थिक रूप से कमजोर लोग भी 10% आरक्षण का फायदा उठा सकेंगे।

EWS सर्टिफिकेट का उद्देश्य EWS Certificate Objective in Hindi

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के द्वारा ईडब्ल्यूएस सर्टिफिकेट योजना को शुरू करने का मुख्य उद्देश्य यही है कि सामान्य वर्ग के आर्थिक रूप से कमजोर लोगों को भी SC/ST और OBC के लोगो की तरह सरकारी नौकरी और सरकार के द्वारा चलाए जा रहे शिक्षण संस्थानों में प्राथमिकता दी जाए। क्युकोEWS Certificate आर्थिक स्थिति के तौर पर आरक्षण प्रदान करता है इसलिए यह ऊंच-नीच को लेकर भेदभाव करने वाले लोगों को भी एक करारा जवाब है। ईडब्ल्यूएस सर्टिफिकेट को लागू करने का मुख्य उद्देश्य यही है कि लोगों को उनकी जाति के अनुसार नहीं बल्कि आर्थिक स्थिति के अनुसार प्राथमिकता दी जाए।

EWS Certificate के लिए पात्रता/योग्यता EWS Certificate Eligibilities in Hindi

ईडब्ल्यूएस सर्टिफिकेट सामान्य वर्ग के लोगों के लिए है लेकिन इसके लिए सरकार ने कुछ पात्रता निर्धारित की है, जो कुछ इस प्रकार हैं:

  • परिवार की वार्षिक आय 8 लाख से कम होनी चाहिये।
  • आवेदक के पास 5 एकड़ से ज्यादा जमीन, 1000 स्क्वायर फुट से अधिक का मकान नही होना चाहिए।
  • ईडब्ल्यूएस सर्टिफिकेट बनाने के लिए आधार कार्ड, आय प्रमाण पत्र, पैन कार्ड, बीपीएल राशन कार्ड, बैंक स्टेटमेंट, स्व-घोषणा पत्र जैसे सभी जरूरी डॉक्यूमेंट होने चाहिए।
  • EWS Certificate का लाभ केवल सामान्य वर्ग के लोग उठा सकते हैं जो आर्थिक रूप से कमजोर हैं। जिनके पास पहले से आरक्षण हैं उन्हें इस सर्टिफिकेट का लाभ नही मिलेगा।

EWS सर्टिफिकेट के लिए ऑनलाइन आवेदन कैसे करे EWS Certificate Ke Liye Online Apply Kaise Kare in Hindi

EWS Certificate एक जरुरीDocument हैं जो उस व्यक्ति को 10 प्रतिशत आरक्षण देता हैं जिसके पास यह Certificate होता हैं। सामान्य वर्ग के आर्थिक रूप से कमजोर लोगों को यह सर्टिफिकेट दिया जाता है। इस सर्टिफिकेट के माध्यम से सरकारी नौकरी और सरकारी शिक्षण संस्थानों में प्राथमिकता प्राप्त की जा सकती है। EWS Certificate के लिए ऑनलाइन अप्लाई करने के लिए आपको निम्न स्टेप्सफॉलो करने होंगे:

  • EWS Certificate Online Apply के लिए आपको सबसे पहले इसकी आधिकारिक वेबसाइट https://edistrict.up.gov.in/ पर जाना होगा।
  • वेबसाइट के होमपेज पर आपको Revenue Department का विकल्प मिलेगा, उस पर क्लिक करे।
  • इसके बाद आपके सामने एक नया पेज ओपन होगा जिसमें आपको कई विकल्प मिलेंगे, इनमे से Income Certificate’ के विकल्प पर क्लिक करे।
  • आपके सामने एक Application Form ओपन होगा। इस फॉर्म में आपको मांगी गई सभी जरूरी जानकारी भरनी होगी।
  • इस Application Form में आपसे नाम, अभिभावक का नाम, आधार नम्बर, जन्म दिनांक, लिंग, एप्लीकेशनऐज जैसी सामान्य जानकारिया मांगी जाएगी। इसके अलावा आपको आपकी आय से जुड़ी जंनकरिया भी देनी होगी। इसके बाद आपको मांगे गए सभी दस्तावेज अपलोड करने होंगे और Show Payment पर क्लिक करना होगा।
  • इसके बाद आपको एप्लीकेशनफॉर्म की शुल्क भरनी होगी, जिसके लिए आपको कई विकल्प दिए जाएंगे। (क्योंकि यह सरकारी वेबसाइट हैं इसलिये डरने की कोई जरूरत नहीं है) कार्ड डिटेल्स देने के बाद Confirm Payment पर क्लिक करे।
  • इसके बाद आपको रिसिप्ट दी जाएगी, उसका स्क्रीनशॉट ले और Printout निकालकर अपने पास रख ले।

इसके बाद आप जब चाहे तब EWS Certificate की आधिकारिक वेबसाइट के जरिये अपने Form का Status देख सकते हैं।

आज के इस लेख ‘EWS Certificate in Hindi – EWS Online Apply Process’ में हमने EWS Certificate से जुड़ी सभी जरूरी बातें जानी। इस लेख में हमने EWS Certificate क्या होता है, EWS Certificate का उद्देश्य और EWS सर्टिफिकेट के लिए ऑनलाइन अप्लाई कैसे करें (EWS Certificate Ke Liye Online Apply Kaise Kare) जैसे विषयों पर बात की हैं।

Leave a Comment